Type Here to Get Search Results !

जिस्म क्या है रूह तक सब कुछ ख़ुलासा देखिये : अदम गोंडवी

जिस्म क्या है रूह तक सब कुछ ख़ुलासा देखिये : अदम गोंडवी - भाग्य श्री : हिन्दी कविता

जिस्म क्या है रूह तक सब कुछ ख़ुलासा देखिये....

jism kya hai rooh tak sab kuchh khulaasa dekhiye.....

आप भी इस भीड़ में घुस कर तमाशा देखिये....

aap bhee is bheed mein ghus kar tamaasha dekhiye....

- अदम गोंडवी

Video Credit: Bhagya Shree

अदम गोंडवी के चुनिंदा शेर, अदम गोंडवी की कविता, अदम गोंडवी की ग़ज़लें, jism kya hai rooh tak sab kuchh khulaasa dekhiye, Adam Gondvi Sher, Adam Gondvi Poems, Adam Gondvi Poetry, Adam Gondvi ki Gazal

ये भी पढ़ें;

Adam Gondvi : हिन्दू या मुस्लिम के अहसासात को मत छेड़िये - अदम गोंडवी

भाग्य श्री की कविता : संसद से विधानमंडलों तक

बाबा नागार्जुन जयंती पर विशेष : नागार्जुन के काव्य संग्रह तुमने कहा था पुनर्पाठ भाग 2