Type Here to Get Search Results !

HINDI IDIOMS AND PROVERBS : Muhavare evam Lokoktiyan - मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ

 एवं लोकोक्तियाँ : हिन्दी व्याकरण

IDIOMS AND PROVERBS - Muhavare evam Lokoktiyan : Hindi Grammar

इस वीडियो में मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ की जानकारी दी गई है। 1. महावरे की परिभाषा 2. लोकोक्ति की परिभाषा 3. मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ में अंतर 4. मुहावरे का अर्थ और प्रयोग जैसे : अंगूठा दिखाना, अक्ल पर पत्थर पड़ना, अगर मगर होना, अपनी खिचड़ी अलग पकाना, अक्ल का दुश्मन, आसमान पर चढ़ना, ईद का चांद, इधर का उधर होना, उल्लू बनाना, उन्नीस बीस का अंतर, ईंट का जवाब पत्थर से देना, कलेजा मुंह को आना, किताब का कीड़ा, कान कतरना, गले का हार, चल बसना आदि। लोकोक्तियों का अर्थ और परिभाषा जैसे : अंत भले का भला, अंधेर नगरी चौपट राजा, अंधा क्या चाहे दो आंखे, ईश्वर की माया, कहीं धूप कहीं छाया, उल्टा चोर कोतवाल को डांटे, एक अनार सौ बीमार, खोदा पहाड़ निकला चुहिया, गागर में सागर भरना, जैसी करनी वैसी भरनी, जल में रहकर मगर से वैर आदि। महावारे (IDIOMS) लोकोक्ति या कहावते (PROVERBS)

मुहावरे और लोकोक्तियाँ : 

IDIOMS AND PROVERBS

1. मुहावरे (Idioms)

साधारण रूप में 'मुहावरा' उस वाक्यांश को कहते हैं जिसके प्रयोग से वाक्य के अर्थ में विलक्षणता उत्पन्न हो जाती है। जैसे - अँगूठा दिखाना। यह एक साधारण सा वाक्यांश है। साधारण रूप से इसका साधारण अर्थ है अँगूठे को दिखाना। पर यह एक मुहावरा है, जो अपने भीतर प्रत्यक्ष अर्थ के अतिरिक्त एक विलक्षण अर्थ रखता है - 'देने से साफ इन्कार करना या मुकर जाना।'

मुहावरों का प्रयोग भाषा में सौष्ठव, माधुर्य और कथन में चमत्कार तथा प्रभाव उत्पन्न करने के लिए किया जाता है। भारतेन्दु युग और द्विवेदी काल में कई गद्यकारों ने मुहावरों के प्रयोग से प्रसिद्ध प्राप्त की थी।

मुहावरों और कहावतों में अन्तर होता है। मुहावरे केवल वाक्यांश होते हैं; पर कहावतें पूर्ण वाक्य होती हैं। कहावतों का प्रयोग पूरे वाक्य के रूप में किया जाता है; किन्तु मुहावरे लिंग, वचन और क्रिया के अनुसार परिवर्तित हो जाते हैं।

2. लोकोक्तियाँ (Proverbs)

लोकोक्तियाँ या कहावतें उन्हें कहते हैं, जो पूरे वाक्य के समान होती हैं, और साधारण अर्थ को छोड़कर कोई विशेष अर्थ प्रकट करती हैं।

जैसे- अन्धों में काना राजा।

इसका साधारण अर्थ तो यह है कि बहुत-से अन्धों में कोई काना राजा के समान है। पर कहावत के रूप में उसका विशेष अर्थ है-मूर्खों में थोड़ा पढ़ा-लिखा बड़ा विद्वान् समझा जाता है। इसी प्रकार दूसरी कहावतें भी विशेष अर्थ रखती हैं। मुहावरों की भाँति लोकोक्तियों का प्रयोग भी भाषा को सुन्दर, सरस और अधिक प्रभावपूर्ण बनाने के लिए किया जाता है।

मुहावरे और लोकोक्ति में अंतर :

बहुत-से लोग मुहावरे तथा लोकोक्ति में कोई अंतर ही नहीं समझते। दोनों का अंतर निम्नलिखित बातों से स्पष्ट होता है

(क) लोकोक्ति लोक में प्रचलित उक्ति होती है जो भूतकाल का लोक - अनुभव लिए हुए होती है, जबकि मुहावरा अपने रूढ़ अर्थ के लिए प्रसिद्ध होता है।

(ख) लोकोक्ति पूर्ण वाक्य होती है, जबकि मुहावरा वाक्य का अंश होता है।

(ग) पूर्ण वाक्य होने के कारण लोकोक्ति का प्रयोग स्वतंत्र एवं अपने-आप में पूर्ण इकाई के रूप में होता है, जबकि मुहावरा किसी वाक्य का अंश बनकर आता है। 

(घ) पूर्ण इकाई होने के कारण लोकोक्ति में किसी प्रकार का परिवर्तन नहीं होता, जबकि मुहावरे में वाक्य के अनुसार परिवर्तन होता है।

ये भी पढ़ें;

Kabir Amritwani : ऐसी बानी बोलिए, मन का आपा खोय

Aadhe Adhure Natak By Mohan Rakesh : आधे अधूरे नाटक की समीक्षा और चरित्र चित्रण

Even more from this blog
Dr. MULLA ADAM ALI

Dr. Mulla Adam Ali / डॉ. मुल्ला आदम अली

हिन्दी आलेख/ Hindi Articles

कविता कोश / Kavita Kosh

हिन्दी कहानी / Hindi Kahani

My YouTube Channel Video's