Type Here to Get Search Results !

दीपावली पर विशेष बाल कविता : दीपों की माला

Diwali 2022 : दीपावली पर विशेष बाल कविता : दीपों की माला

कविता कोश में दिवाली 2022 पर विशेष बच्चों के लिए निधि मानसिंह जी द्वारा लिखी गई बाल कविता आपके समक्ष। पढ़े और आनंद लें।

दीपों की माला

दीपों का त्यौहार दीवाली,

खुशियां लेकर आई है।

चुन्नु - मुन्नु फुलझडी जलाते,

राधा ने रंगोली सजाई है।


घर-घर में दीप जले,

पकवानों की खुशबू छाई।

फूल - मालाएँ खेल खिलौने,

उपहारों ने मौज बनाई है।


उजियारे का त्यौहार दीवाली,

अंधकार मिटाने आई है।

भक्ति भाव से पूजा करते सब,

खुशियां ही खुशियां मुस्काई है।


भाईचारे का पाठ सिखाती,

प्रेम - भावना संग लाई है।

दीन - दुखी भी रोशन रहे,

ये दीपों की माला जगाई है।


दीपों का त्यौहार दीवाली,

खुशियां लेकर आई है।


निधि 'मानसिंह'
कैथल, हरियाणा
nidhisinghiitr@gmail.com

ये भी पढ़ें; Happy Diwali 2022 Songs : Deepawali Hindi Rhymes for Children

Hindi Kavita, Kavita Kosh, Diwali Bal Kavita, Deepawali Kavita, Diwali 2022 Hindi Bal Kavita, Dipawali 2022 Kavita, Diwali Poems Hindi, Deepawali Poem in Hindi, Deepawali 2022 Hindi Kavita, Bal Kavita, Hindi Bal Kavitayein, Hindi Poetry, Diwali Special Poem, 

दिवाली 2022, दिवाली पर विशेष बाल कविता, बाल कविताएं, हिंदी बाल कविता, दीपों का पर्व दिवाली पर विशेष कविता, हिंदी कविता, कविता कोश, हिंदी बाल गीत, त्यौहार पर गीत, दीप पर्व दीपावली बाल कविताएं, दीपवाली 2022 हिंदी कविता।