Type Here to Get Search Results !

Poem on Deepawali 2022 : दिवाली पर विशेष कविता - दीप सात रंगों के

Poem on Deepawali 2022 : दिवाली पर विशेष कविता - दीप सात रंगों के

कविता कोश में दिवाली 2022 पर विशेष डॉ. मंजु रुस्तगी जी द्वारा लिखी गई कविता आपके समक्ष। पढ़े और आनंद लें।

दीप सात रंगों के


दीप सात रंगों के इस वर्ष जलाना तुम प्रिय 

उत्सव यह प्रकाश का कुछ यूँ मनाना तुम प्रिय 


उत्साह के रंगों से पूरित, आस की रंगोली सजाना 

समर्पण की डोरी में गूँथ, नेह-पुष्प माला बनाना 

तोरण सेवाभाव की, मुख-द्वार सजाना तुम प्रिय 

दीप सात रंगों के इस वर्ष जलाना तुम प्रिय 


ज्ञान दीपक के लिए, बाती चिंतन की बनाना 

आत्ममंथन-घृत से भरकर ही इसे अग्नि दिखाना 

सर्वत्र ऐसी जोत की आभा फैलाना तुम प्रिय 

दीप सात रंगों के इस वर्ष जलाना तुम प्रिय 


सजेगी सप्त भाव से जब पुनीत दीयों की अवली 

महकेगा हर मन-अंगना, उज्ज्वल होगी गली-गली 

प्रेममय संसार का नवपथ दिखाना तुम प्रिय 


दीप सात रंगों के इस वर्ष जलाना तुम प्रिय

डॉ. मंजु रुस्तगी
चेन्नई
9840695994

ये भी पढ़ें; दीपावली पर विशेष बाल कविता : दीपों की माला

दिवाली पर विशेष कविता, हिंदी कविता, दीपावली पर कविता, हिंदी दिवाली गीत, कविता कोश, कविता संग्रह, दिवाली 2022, दिवाली 2022 कविता, दीपावली 2022 कविता, दीवाली पर हिंदी गीत, दीवाली poem, हिंदी कविता पाठ।

Poem on Diwali 2022, Kavita Deepawali 2022, Hindi Kavita, Festival of Lights 2022 Hindi Poem, Hindi poetry, Kavita Kosh, Hindi Poems, Devotional Songs, Dr. Manju Rustagi poem on Diwali..

Diwali Special Poem, Deepawali Special Hindi Poetry, Best Hindi devotional songs, Poetry status hindi, kavita path, poems in Hindi Diwali..