Type Here to Get Search Results !

Financial Planning : थर्ड वेव का फियर, क्या आपके पास है कोई फाइनेंशियल प्लान?

Financial Planning During Covid-19 Crisis

Financial planning : थर्ड वेव का फियर.. क्या आपके पास है कोई फाइनेंशियल प्लान?

  अभी तक कोरोना (Corona) का डर खत्म नहीं हुआ है। इस महामारी (Epidemic) ने अभी पूरी तरह से मानव को नहीं छोड़ा है। इतने में ही में शुरू हुआ  ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant) एक बार फिर दुनिया को  चेतावनी कर रहा है। Omicron को लेकर वैज्ञानिकों ने चिंतित हैं। पहले ही दो लहरों से दुनिया हिल चुका है। चिकित्सा विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि ओमिक्रॉन के साथ तीसरी लहर (थर्ड वेव) की संभावना है। तीसरी लहर आने पर इससे प्रभावी ढंग से निपटने के लिए हमारे पास वित्तीय योजना (Financial planning)  होनी चाहिए। ओमिक्रॉन की आशंकाओं के मद्देनजर दुनिया भर में प्रतिबंध फिर से शुरू हो गए हैं। हवाई यातायात पर प्रतिबंध लगाया जा रहा। विदेशी यात्रियों पर निगरानी (जांच) जारी है। यदि स्थिति बिगड़ती है, तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि कि देश पर एक बार फिर प्रतिबंध लगाया जायेगा  इससे पूर्व दो बार आई लहरों के कारण कई लोगों की नौकरी चली गई है। अन्य आर्थिक रूप से संघर्ष कर रहे हैं। इसलिए हमें सबक सीखना होगा चाहे परिस्थितियां कैसी भी हों, इसके लिए आपके पास है फाइनेंशियल प्लान होना जरूरी है।

क्या आपके पास आपातकालीन निधि है? : तीसरी लहर से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए हमारे पास एक आपातकालीन निधि (emergency fund) होनी चाहिए। यानी हमारे पास कम से कम छह महीने का मासिक खर्च होना चाहिए। इस राशि में घर के लिए खर्च की जाने वाली राशि से ईएमआई (EMI), बीमा पॉलिसियां (Insurance policy) और बच्चे की फीस (fees) भी शामिल होनी चाहिए। यदि आपके पास वर्तमान में कोई आपातकालीन निधि नहीं है, तो आपको अपना कुछ निवेश (investment) अलग रखना पड़ सकता है। वह राशि बचत खाते (Saving Account) में जमा करानी चाहिए।

कुछ आपके पास में रखे निश्चित राशि : वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि आपातकालीन निधि की परवाह किए बिना एक महीने के लिए आपके हाथ में पर्याप्त पैसा होना हमेशा एक अच्छा विचार है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि गंभीर हालत के मद्देनजर कई अस्पतालों ने क्रेडिट कार्ड (credit card), डेबिट कार्ड (Debit card) की जगह नकद राशि की मांग की। उनका कहना है कि किसी भी आपात स्थिति में नकद के लिए एटीएम (ATM) और बैंकों (Bank) में जाने के बजाय एक निश्चित राशि नकद में रखना महत्वपूर्ण है।

जोखिम न लें : वित्तीय विशेषज्ञों का कहना है कि थर्डवेव की आशंकाओं (speculation) से दूर रहना बेहतर है। यदि आप इक्विटी बाजार में निवेश कर रहे हैं तो बिक्री में जाना या खरीदारी करना अच्छा विचार नहीं है। ऐसी किसी भी योजना से बचना सबसे अच्छा है। यह महत्वपूर्ण है कि शेयर बाजार (Stock market) और क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) जैसी चीजों में निवेश करने का जोखिम न लें। यदि आप एक सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) में निवेश कर रहे हैं, तो उन्हें वैसे ही रखें जैसे वे हैं।

स्वास्थ्य बीमा के बारे में : कोविड महामारी (Covid-19) ने स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) को सभी के लिए अनिवार्य बना दिया है। जिन लोगों के पास स्वास्थ्य बीमा नहीं है, उनके कर्ज में डूबने की संभावना अधिक होती है, खासकर दूसरी लहर के दौरान। इसलिए यह सलाह दी जाती है कि अब तक जिनका स्वास्थ्य बीमा नहीं है उन्हें स्वस्थ बीमा लेना चाहिए। वित्तीय विशेषज्ञ का कहना है कि शहरों में रहने वालों का कम से कम 15-20 लाख का बीमा होना चाहिए। साथ ही जीवन बीमा पॉलिसी होनी चाहिए। तभी परिवार को  कुछ आर्थिक सुरक्षा दे पाएगा।

लागत कम करें : विशेषज्ञ तख्तापलट की स्थिति (coup d'état) में अनावश्यक खर्चों में कटौती करने का सुझाव देते हैं। खासतौर पर ईएमआई में गिरावट की बात कही जा रही है। खासकर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए। इसके अलावा, यदि आपके पास विलासिता की वस्तुओं से संबंधित कोई खरीद योजना है, तो उन्हें कुछ दिनों के लिए स्थगित करना एक अच्छा विचार है।

ये भी पढ़े;

* Insurance Plans : चिंताओं से बचने के लिए जरूरी हैं ये बीमा पॉलिसियां

Get Pre Approved Personal Personal Loan in YONO : SBI में खाता होना अब अधिक फायदेमंद है

* Online Money Transaction - गलत अकाउंट में ट्रांसफर किया गया पैसा, तो कैसे मिलेगा वापस?

* Financial Planning: अपने घर का बजट तैयार करें